लिंगाष्टकम स्तोत्र |

640 Views
Purvi Aggarwal
2
Published on 11 Jun 2020 / In Bhajans

⁣हर कोई शिव को पूजता है। और यह भी जानता है कि उनकी महिमा के बारे में है। जा भी क्यू ना। शिव को सभी भोलेनाथ जो कहते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि लिंगश्तकम यह मंत्र आपको पागल कर सकता है।

अब आप पूछेंगे ऐसा क्यों? ऐसा इसीलए क्योंकि यह मंत्र बहुत ही प्रभावशाली है, इस मंत्र के जाप से भोले बाबा इतनी जल्दी आप से प्रसन्न हो जायेंगे की आप सोच भी नहीं सकते।

सामान्य लोक भाषा में अगर बोला जाए तो आप ख़ुशी के मारे पागल ही जाएंगे, अपने भोले बाबा की आग कृपा से। ऐसे ही हमारे भोले नाथ हैं। भोला भंडारी। तो सभी प्रेम से बोलो हर महादेव।

लिंगशक्तम स्तोत्रम क्या है?

श्री शिव की स्तुति में एक स्तोत्रम् (भजन) लिंगशक्तम है, शिव जिसे महेश्वर, रुद्र, आदि भी कहा जाता है। लिंग शिव का प्रतीक है। जैसे शंख और चक्र श्री विष्णु के प्रतीक हैं।

लिंगाष्टकम स्तोत्रम भगवान शिव की प्रार्थना है। लिंग रचना का सार्वभौमिक प्रतीक और संसार के हर एक चीज़ का स्रोत है।


Credit/Source:- ⁣https://www.youtube.com/watch?v=PBqaRomahOA

Show more
0 Comments sort Sort By

Facebook Comments